कोर्ट मैरिज

कोर्ट मैरिज – पैसा ही सब कुछ नही होता है, रिश्ते भी जरूरी होते है

संडे का दिन था, इसलिए सुबह सुबह कोई हड़बड़ी नहीं थी. सात बज चुके थे और सब बस सो कर ही उठे थे. अखबार वाला भी संडे को देर से ही आता था. सबको चाय का प्याला थमा कर सुकून से वह बालकनी में अपनी चाय ले कर बैठी ही…
घरेलू हिंसा

घरेलू हिंसा – एक कहानी बेटी के जीवन का साहसपूर्ण संघर्ष की.

एक गरीब माता-पिता के 3 बच्चे थे। अब, यहाँ हम तीसरे बच्चे के बारे में बात कर रहे है। अपने बचपन के दौरान उसको इतना लाड़ प्यार नही मिला था, क्योंकि वह बिल्कुल सुन्दर नही थी। उसे 3 बच्चों के बीच कम महत्व दिया गया था। उसे एक सरकारी स्कूल…
तलाक

तलाक से टूटते रिश्ते और बिखरते परिवार – क्यों टूटते है रिश्ते ?

अभी अभी विनोद दफ्तर से घर लौटा ही था। उसने देखा कि उसकी बीबी और माँ आपस में किसी बात पर बहस कर रही थी। विनोद जैसे ही लिविंग रूम  में पंहुचा, उसकी माँ और बीबी ने अपनी अपनी बातें रखना शुरू कर दी। विनोद ने हर बार की तरह…